हेल्थ टिप्स: महिलाओं को हलीम के बीज के एक चुटकी के साथ 5 प्रमुख स्वास्थ्य लाभ होंगे

0
0

आयुर्वेद में कई सुपर खाद्य पदार्थों का उल्लेख किया गया है। हलीम बीज भी इन सुपर खाद्य पदार्थों में से एक हैं। ज्यादातर लोग हलीम के बीज के बारे में नहीं जानते हैं या कुछ ही लोग इस बीज के लाभों के बारे में जानते हैं। सेलिब्रिटी आहार विशेषज्ञ रुजुता दिवेकर ने कुछ दिन पहले अपने इंस्टाग्राम अकाउंट पर एक वीडियो साझा किया है, जिसमें वह हलीम के बीज के कई लाभों के बारे में बताती हैं। खासकर ये बीज महिलाओं के स्वास्थ्य के लिए बहुत अच्छे हैं।
रुजुता कहती हैं, ‘ये लाल रंग के बीज आपको किसी भी खाद्य भंडार या ऑनलाइन पर आसानी से मिल जाएंगे। ये बीज टीनएजर्स से उन महिलाओं के लिए बहुत फायदेमंद होते हैं जो रजोनिवृत्ति की स्थिति में पहुंच चुकी होती हैं। ‘

प्रजनन क्षमता बढ़ाता है
रुजुता कहती हैं, “जो महिलाएं मां बनना चाहती हैं, उन्हें हलीम के बीज अवश्य लेने चाहिए क्योंकि यह फोलिक एसिड का बहुत अच्छा स्रोत है और फोलिक एसिड महिलाओं को गर्भ धारण करने में मदद करता है।”

स्तनपान कराने वाली महिलाओं के लिए फायदेमंद
स्तनपान कराने वाली महिलाओं के लिए भी हलीम के बीज बहुत फायदेमंद साबित हो सकते हैं। रुजुता कहती हैं, “इससे दूध का उत्पादन बढ़ता है।” यह स्तनपान कराने वाली महिलाओं में अवसाद को भी कम करता है। इतना ही नहीं, अगर आपने गर्भावस्था के बाद वजन बढ़ाया है, तो हलीम के बीज भी वजन कम करने में आपकी मदद करते हैं। गर्भावस्था के बाद के हलीम के बीजों का सेवन करने से महिलाओं को कई और लाभ मिलते हैं। रुजुता कहती हैं, “अगर आपको मूड स्विंग्स या शुगर की लालसा है, तो हलीम के बीज खाने से आपको इन दोनों समस्याओं में राहत मिलेगी। इतना ही नहीं, गर्भावस्था के बाद शरीर में आई कमजोरी को भी हलीम के बीजों के सेवन से दूर किया जा सकता है। आपको बता दें कि हलीम के बीज रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाने में मदद करते हैं। ‘

त्वचा और बालों के लिए बून
हलीम के बीज विटामिन-ई और ए का बहुत अच्छा स्रोत हैं। यह आयरन और फैटी एसिड से भरपूर होता है, जो गर्भावस्था के बाद त्वचा के ढीलेपन और बालों के झड़ने को रोकता है। वैसे, महिलाओं को हलीम के बीज की उचित मात्रा लेने से बालों के झड़ने और त्वचा की समस्याओं से भी छुटकारा मिल सकता है।

किशोरों के लिए हलीम के लाभ
किशोरावस्था में, अनियमित पीरियड्स की समस्या से पीड़ित लड़कियों, त्वचा पर पिंपल्स और चेहरे के बालों को भी हलीम बीजों के इस्तेमाल से फायदा होता है। यही नहीं, पीरियड्स के कारण होने वाले दर्द से भी हलीम के बीजों के सेवन से राहत पाई जा सकती है।

रजोनिवृत्ति में हलीम के बीज के लाभ
रजोनिवृत्ति से गुजर रही महिलाएं अक्सर थकावट, बालों के झड़ने और त्वचा के ढीलेपन से पीड़ित होती हैं। ऐसे में एक चुटकी हलीम के बीज इन सभी समस्याओं को आपसे दूर कर देंगे।

हलीम के बीज का सेवन कैसे करें
यदि आप पहली बार हैलीम बीज ले रहे हैं, तो आपको एक चुटकी से शुरू करना चाहिए। रुजुता कहती हैं, “इतने सारे एंटीऑक्सिडेंट और वसा को पचाना आसान नहीं है।” इसलिए, हलीम के बीज को हमेशा अपने आहार में दूध, नारियल और नारियल के लड्डू के साथ मिलाया जाना चाहिए। सबसे अच्छा तरीका है कि रात भर पानी में एक चुटकी हलीम के बीजों को भिगो दें और फिर उस पानी को दूध में मिलाकर पी लें।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here