आखिर क्या वजह हैं, कि लड़कियों के पेट में नहीं पचती कोई बात

0
0

आखिर कोनसी वो बात है जिसके कारण महिलाओं के पेट में क्यों नहीं पचती हैं। यह सवाल बहुत संवेदनशील प्रवृत्ति का हैं। ज्यादातर मामलो में यह देखा गया हैं, कि महिलाओं के लिए ज्यादा देर तक खुद तक किसी बात को सीमित रखना बोझ की तरह लगता है। इस बोझ से छुटकारा पाने के लिए वो इधर की बात उधर करती हैं। इसके पीछे क्या वजह है। और ऐसा कोनसा कारण है? आज हम आपको बताएंगे। ऐसी कई वजह है..

महिलाओ का स्वभाव – 
महिलाएं पुरुषों की अपेक्षा किसी भी बात को जानने के लिए ज्यादा उत्सुक होती है। महिलाएं वो हर बात को जानना चाहती है। अक्सर महिलाएं ज्यादा देर तक कोई बात खुद तक नहीं रख पातीं ऐसा क्यों है। इसके पीछे सबसे जरूरी कारण उनका स्वभाव होता है। महिलाएं अपने स्वभाव से बातूनी होती है। इसीलिए तो उनके पेट में कोई बात नहीं पचती हैं। और वो बाते तुरन्त उगल देती है।

लोगों का ध्यान खुद की तरफ खींचने के लिए –
जिसके कारण महिलाएं बात को अपने तक ना रखकर दुसरों को बता देती है। महिलाओं को ये गलतफहमी होती है। कि अगर वो किसी की बात को ज्यादा बताएंगी तो उनकी अहमियत बढ़ेगी। इसके अलावा लोगों का ध्यान खुद की तरफ खींचने के लिए भी महिलाएं राज की बातें खोल देती हैं।

महिलाओं का इमोशनल होना –
महिलाओं का इमोशनल होना भी इसकी बड़ी वजह है। कोई भी इन्हें आसानी से इमोशनल फूल बनाकर इसने मुंह से बातें उगलवा सकता है। एक रिसर्च में ये बात सामने आई है। कि महिलाओं के लिए ज्यादा देर तक खुद तक किसी बात को सीमित रखना बोझ की तरह लगता है। इस बोझ से छुटकारा पाने के लिए वो इधर की बात उधर करती हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here