चीन और दक्षिण एशिया के युवाओं की classic poems सुनाने की गतिविधि आयोजित

0
1

चीनी जन वैदेशिक मैत्री संघ और युन्नान प्रांत की सरकार ने संयुक्त रूप से चीन और दक्षिण एशिया के युवाओं की क्लासिक कविताएं और लेख सुनाने की ऑनलाइन गतिविधि आयोजित की। इसमें चीन और दक्षिण एशिया के युवाओं ने ऑनलाइन वीडियो के जरिए क्लासिक कविताएं और लेख सुनाए, प्यार और मैत्री का प्रसार किया और एक दूसरे की महामारी को पराजित करने का विश्वास और साहस प्रेरित किया। चीनी जन वैदेशिक मैत्री संघ के अध्यक्ष लिन सोंगथ्येन ने बधाई वीडियो भेजकर कहा कि चीन और दक्षिण एशिया दोनों एशिया में स्थित हैं, दोनों के समान सांस्कृतिक जीवन, पुराना इतिहास और समान विकास मिशन हैं। दोनों इस क्षेत्र की शांति व समृद्धि की रचना में संलग्न हैं।

युवा देश के भविष्य और जाति की आशा है, जिनके कंधों पर देशों के मैत्रीपूर्ण संबंध और विकास के कर्तव्य और मिशन हैं। 21वीं शताब्दी एशिया की शताब्दी है। आशा है कि युवा पुराने रेशम मार्ग की भावना का प्रसार कर एशियाई सभ्यताओं के बीच आदान-प्रदान और आपसी सबक को आगे बढ़ाएंगे और समान समृद्धि को बढ़ावा देंगे।

गतिविधि में भारत की विश्व भारती यूनिर्वसिटी, बांग्लादेश की ढाका यूनिवर्सिटी और पेइचिंग यूनिवर्सिटी के छात्रों ने अलग-अलग तौर पर चीनी, हिन्दी और बंगाली भाषा में भारतीय कवि ठाकुर और चीनी कवि हाईजी की कविताएं, चीनी लेखक बाचिन और लू श्वुन के गद्य सुनायें।

न्यूज स्त्रोत आईएएनएस

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here