PM Modi ने बाढ़ प्रभावित राज्यों के मुख्यमंत्री ठाकरे और येदियुरप्पा को दिया मदद का आश्वासन

0
0

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने शुक्रवार को महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे और कर्नाटक के मुख्यमंत्री बी. एस. येदियुरप्पा से बात करके उनके राज्य में वर्षा और बाढ़ की स्थिति की जानकारी ली। मोदी ने महाराष्ट्र और कर्नाटक में बाढ़ और बारिश की स्थिति जानने के लिए दोनों राज्यों के मुख्यमंत्रियों से विचार-विमर्श किया। मोदी ने येदियुरप्पा और ठाकरे दोनों को केंद्रीय सहायता की पेशकश भी की।

प्रधानमंत्री मोदी ने दोनों मुख्यमंत्रियों से कहा कि इस संकट की स्थिति में हम अपनी बहनों और भाइयों के साथ एकजुटता से खड़े हैं। उन्होंने बचाव और राहत कार्यों में केंद्र की तरफ से हर संभव सहायता देने का आश्वासन दिया।

उन्होंने एक ट्वीट में कहा, “राज्य के कुछ हिस्सों में बाढ़ और भारी बारिश के कारण पैदा हुई स्थिति के बारे में महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे जी से बात की। हम बाढ़ से प्रभावित कर्नाटक की अपनी बहनों और भाइयों के साथ एकजुटता से खड़े हैं। बचाव और राहत कार्यों में केंद्र के समर्थन को दोहराया।”

अधिकारियों ने कहा कि गुरुवार को महाराष्ट्र में कम से कम 10 लोगों की मौत हो गई, क्योंकि कई कस्बों और गांवों में बाढ़ आ गई और पश्चिमी महाराष्ट्र और मराठवाड़ा के कई जिलों और मुंबई व तटीय कोंकण के कुछ हिस्सों में सड़क और रेल यातायात प्रभावित हुआ।

सोलापुर, कोल्हापुर, सांगली, पुणे और पश्चिमी महाराष्ट्र में सतारा और मराठवाड़ा में लातूर, उस्मानाबाद और बीड सबसे अधिक प्रभावित हुए।

इस दौरान प्रधानमंत्री ने कर्नाटक के मुख्यमंत्री से भी बात की। उन्होंने ट्विटर पर जानकारी देते हुए कहा, “हम बाढ़ से प्रभावित कर्नाटक की अपनी बहनों और भाइयों के साथ एकजुटता से खड़े हैं। बचाव और राहत कार्यों में केंद्र की ओर से हरसंभव सहयोग का आश्वासन दिया जा रहा है।”

पिछले कुछ दिनों में मूसलाधार बारिश के कारण कर्नाटक राज्य के तटीय और उत्तरी क्षेत्रों में बाढ़ आ गई है। यहां कृषि क्षेत्रों में अधिक बारिश और जल-जमाव ने फसल की कटाई से पहले खरीफ की फसलों को नुकसान पहुंचाया है।

राज्य के उत्तर और उत्तर-पश्चिम क्षेत्रों में बागलकोट, बल्लारी, बेलगावी, बीदर, धारवाड़, गदग, हावेरी, हुलाबली, कालाबुरागी, कोप्पल, रायचूर, विजयपुरा और यादगीर सबसे अधिक प्रभावित हैं।

इस बीच, राष्ट्रीय आपदा प्रतिक्रिया बल (एनडीआरएफ) की छह टीमों को बचाव और राहत कार्यों के लिए बीदर, कालाबुरागी और यादगीर जिलों में तैनात किया गया है।

न्यूज स्त्रोत आईएएनएस

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here