विजय हजारे ट्रॉफी : कर्नाटक चौथी बार फाइनल में पहुंचा

0
0

देवदत्त पड्डीकल (92) और लोकेश राहुल (नाबाद 88) की बेहतरीन अर्धशतकीय पारियों के सहारे कर्नाटक ने बुधवार को यहां एम.चिन्नास्वामी स्टेडियम में खेले गए पहले सेमीफाइनल मुकाबले में छत्तीसगढ़ को नौ विकेट से करारी शिकस्त देकर चौथी बार विजय हजारे ट्रॉफी के फाइनल में अपनी जगह पक्की कर ली। फाइनल में कर्नाटक का सामना शुक्रवार को तमिलनाडु होगा। तमिलनाडु ने अपने सेमीफाइनल मुकाबले में गुजरात को पांच विकेट से हराकर छठी बार विजय हजारे ट्रॉफी के फाइनल में प्रवेश किया।

कर्नाटक ने टॉस जीतकर पहले गेंदबाजी करने का फैसला किया। छत्तीसगढ़ ने पहले बल्लेबाजी करते हुए 49.4 ओवर में 223 रन का स्कोर बनाया। टीम की ओर से अमनदीप खरे ने 102 गेंदों पर चार चौकों की मदद से सर्वाधिक 78 रनों का योगदान दिया।

उनके अलावा सुमित रुइकर ने 40, कप्तान हरप्रीत सिंह ने 25 और आशुतोष सिंह ने 20 रन बनाए।

कर्नाटक के लिए वी. कौशिक ने सर्वाधिक चार खिलाड़ियों को आउट किया। इसके अलावा अभिमन्यु मिथुन, कृष्णप्पा गौतम और प्रवीन दुबे ने दो-दो विकेट चटकाए।

छत्तीसगढ़ से मिले 224 रनों के लक्ष्य का पीछा करने उतरी कर्नाटक को राहुल और पड्डीकल ने पहले विकेट के लिए 30.5 ओवरों में 155 रनों की साझेदारी कर ठोस शुरूआत दी।

पड्डीकल ने 98 गेंदों की पारी में सात चौके और तीन छक्के लगाए। उनके आउट होने के बाद राहुल और मयंक अग्रवाल (नाबाद 47) ने दूसरे विकेट के लिए 74 रनों की साझेदारी करके 10 ओवर शेष रहते कर्नाटक को नौ विकेट से शानदार जीत दिलाकर उसे फाइनल में पहुंचा दिया।

राहुल ने 111 गेंदों पर छह चौके और एक छक्का जबकि मयंक ने 33 गेंदों पर तीन चौके और चार छक्के लगाए।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here